राजस्थान

शरीर में इन 3 कमियों से पड़ सकता है मिर्गी का दौरा, जानें नैचुरल इलाज

17 नवंबर को हर साल नेशनल एपिलेप्सी डे (National Epilepsy Day 2020) मनाया जाता है. इस दिन को मनाने का मकसद लोगों को एपिलेप्सी (Epilepsy) यानी मिर्गी के प्रति जागरूक करना है. मिर्गी एक न्यूरोलॉजिकल डिसऑर्डर Neurological Disorders) यानी तंत्रिका तंत्र संबंधी बीमारी है. इसमें तंत्रिका कोशिका (Nerve Cell) की गतिविधि में रुकावट आने लगती है जिसके वजह से मरीज को दौरे पड़ने लगते हैं.
वैसे तो मिर्गी का इलाज एंटी-सीजर दवाओं से किया जाता है हालांकि कुछ मरीजों पर ये दवाएं भी काम नहीं करती हैं. इसके अलावा इन दवाइयों के कुछ साइड इफेक्ट भी हो जाते हैं. बहुत कम लोग जानते हैं कि कुछ प्राकृतिक तरीकों से भी मिर्गी का उपचार (Natural Treatments for Epilepsy) किया जा सकता है. आइए जानते हैं इनके बारे में.
मिर्गी का हर्बल उपचार- हर्बल उपचार की लोकप्रियता लगातार बढ़ती जा रही है. कुछ जड़ी बूटियों से मिर्गी की बीमारी पर भी काबू पाया जा सकता है. मिर्गी के लिए सबसे अधिक इस्तेमाल की जाने वाली जड़ी-बूटियों में कुछ खास झाड़ियां, देहली, ब्राम्ही, घाटी की कुमुदिनी, अमर बेल, सफेद तेजपत्ता, पीअनी, स्कलकैप प्लांट, कल्पवृक्ष और वेलेरियन हैं.
विटामिन- कुछ विटामिन मिर्गी के दौरे को कम करने में मददगार होते हैं, लेकिन ध्यान रखें कि अकेले विटामिन (Vitamins) काम नहीं करता है. विटामिन मिर्गी की अन्य दवाओं के साथ प्रभावी ढंग से काम करता है. मिर्गी के इलाज में सबसे असरदार विटामिन B-6 है. कुछ लोगों के शरीर में सही ढंग से विटामिन B-6 नहीं बन पाता है. इसलिए विटामिन B-6 सप्लीमेंट मिर्गी के दौरों कम करने का काम करते हैं. हालांकि अभी इस पर और शोध किए जाने की जरूरत है.
विटामिन E- कुछ लोगों में विटामिन E की कमी से भी दौरे पड़ने लगते हैं. विटामिन E शरीर में एंटीऑक्सीडेंट गुणों को बढ़ाता है. 2016 की एक स्टडी के अनुसार, विटामिन E मिर्गी के लक्षणों को कंट्रोल करता है और इसे मिर्गी की अन्य दवाओं के साथ लिया जा सकता है. इसके अलावा मिर्गी के इलाज के लिए उपयोग किए जाने वाले दवा से बायोटिन या विटामिन D की कमी भी हो सकती है, जिससे लक्षण और बिगड़ सकते हैं. ऐसी स्थिति में आपके डॉक्टर इन विटामिन की गोलियां दे सकते हैं.

admin1

Recent Posts

अखिल भारतीय रैगर महासभा द्वारा माटुंन्दा हत्याकांड को लेकर जिला कलेक्टर बूंदी और एसपी कार्यालय को दिया ज्ञापन

  रैगर समाज के लोगों ने आज अखिल भारतीय रैगर महासभा पंजिकृत के प्रदेश कार्यकारिणी…

1 month ago

जिला कलक्टर को सौंपेंगे ज्ञापन आज

  बूंदी जिले के माटुन्दा ग्राम में रामराज रैगर हत्याकांड को लेकर उसमे फरार तीसरे…

1 month ago

अब गावों में भी दबंगो का बढ़ता आतंक जजावर गांव में दबंगो ने किया कब्जा जिससे पीड़ित किसान अपनी जान बचा कर भागा

आज दिनांक 17 8 2021 को राष्ट्रीय अनुसूचित जाति जनजाति विकास परिषद के जिलाध्यक्ष राकेश…

1 month ago

दुकान में दुष्कर्म:मोबाइल ठीक कराने गई किशोरी से दुकानदार ने दोस्त के साथ मिल किया दुष्कर्म

शहर के एक पुलिस थाना क्षेत्र में किशोरी से सामूहिक दुष्कर्म हुआ। पीडि़ता रात को…

2 months ago